Best Sharabi Shayari in Hindi 2019 with Images | शराबी शायरी हिंदी में फोटो के साथ

  • Sharab Sareer Ko Khatam Krti Hai
    Sharab Samaj Ko Khatam Krti Hai,
    Aao Aaj Is Sharab Ko Khatam Krte Hain,
    Ek Bottle Tum Khtam Kro,
    Ek Bottle Hum Khatam Krte Hai. ..
  • आजकल हर जगह महिलाएँ शराब बंद करने के
    लिये आन्दोलन करती नजर आ रही है,
    जिस दिन हम महिलाओं की लिप्सटिक,
    .
    पाउडर और क्रिम के खिलाफ आँदोलन पे
    उतर गये उस दिन महिलायें मुँह दिखाने
    लायक नही रह जायेंगी…
    .
    -भड़का हुआ शराबी…
  • Nasha hum karte hain,
    ilzaam sharaab ko diya jaata hai,
    magar ilzaam sharaab ka nahi unka hai,
    jinka chehraa hume har jaam mein nazar aata hai… via Sharabi Shayari
  • Main todh leta agar gulab hoti,
    mai jawab banta agar sawaal hoti,
    sab jante hain mai nasha nahi karta,
    Par pee leta agar sharaab hoti…
  • रात गुमसूँ है मगर चेन खामोश नही,
    कैसे कहदू आज फिर होश नही,
  • ऐसा डूबा तेरी आखो की गहराई मैं,
    हाथ में जाम है मगर पीने का होश नही.
    🏽
  • एक शराबी अपने दोस्त से – आज तब तक
    पियेंगे
    जब तक वो सामने वाले… 3 पेड़… 6 नहीं दिखने लगेगे
    बार टेंडर – बस करो कमीनो
    सामने एक ही पेड़ है… अब क्या जंगल बनाओगे..!!!
  • Kabhi aansu kabhi khushi dekhi,
    Humne akshar majburi or bekasi dekhi,
    Unki naarazgi ko hum kya samjhe,
    Humne khud apni taqdeer ki bebasi dekhi…
  • Ho chuki mulakaat abhi salaam baaki hai
    Tumhare naam ki do ghoont sharaab baki hai
    Tumko mubarak ho khushiyoon ka shamyaana
    Mere naseeb me abhi do gaz zameen baki hai…
  • आप को इस दिल में उतार लेने को जी चाहता है,
    खूबसूरत से फूलो में डूब जाने को जी चाहता है,
    आपका साथ पाकर हम भूल गए सब मैखाने,
    क्योकि उन मैखानो में भी आपका ही चेहरा नज़र आता है….
  • एक शराबी आकाश में देखकर दूसरे शराबी से पूछने लगा
    ये चांद है या सूरज.??
    दूसरा शराबी : पता नही, मैं तो इस शहर में नया हूं.
  • Pi Hai Sharab Har Gali Ki Dukan Se,
    Dosti Si Ho Gayi Hai Sharab Ki Jam Se,
    Gujre Hai Hum Kuch Aise Mukam Se,
    Ki Aankhen Bhar Aati Hai Mohabbat Ke Nam Se.. via Sharabi Shayari
  • Hamesha yad ati hai unki..
    Aur mood ho jata hai kharab..
    Tab Hamesha lekar baithe hai hum…..
    ek hath me Kalam aur ek hath me sharab…
  • तेरा दिल उदास क्यों है?
    तेरी आँखों में प्यास क्यों है?
    जो छोड़ गया तुझे मझदार में ,
    उससे मिलने की आस क्यों है ?
    जो दे गया दर्द ज़िन्दगी भर का,
    वही तेरे लिए ख़ास क्यों है ??
  • दारू की वजह से बर्बाद शराबी ने कसम ली……और घर से दारू की खाली बोतले फेंकने लगा।
    पहली बोतल फेंकते हुए बोला…..तेरी वजह से मेरी नोकरी गई।
    दूसरी बोतल फेंकते हुए बोला….तेरी वजह से मेरा घर बिका।
    तीसरी बोतल फेंकते हुए बोला…..तेरी वजह से मेरी बीवी चली गई।
    चोथी उठाई तो वो भरी हुई निकली…..तो बोला तू साइड में हो जा पगली तू तो बेकसूर है
  • Tum Haseen Ho Gulab Jaisi Ho
    Bahut Nazuk Ho Khawab Jaisi Ho
    Dil ki dhadkan main aag lagati ho
    Hothon Se Lagakar Pee Jayoon Tumhe
    Sir Se Paanv Tak Sharab Jaisi Ho…
  • Meri Kabar Pe Mat Gulaab Leke Aana
    Na Hi Haathon Mein Chiraag Leke Aana
    Payasa Hu Main Barso Se Jaanam
    Botal Sharab Ki Aur Ek Glass Leke Aana..
  • बैठे हैं दिल में ये अरमां जगाये,
    के वो आज नजरों से अपनी पिलाये |
    मजा तो तब ही पीने का यारो,
    इधर हम पियें और नशा उनको आये ||
  • एक शराबी झूमता हुआ जा रहा था
    और अचानक चलते हुए रुक गया।
  • दरअसल, उसके पीछे
    दो लड़कियां आपस में झगड़ रही थीं।
    पहली बोली: भगवान करे..
    तेरी शादी इस शराबी से हो जाए।
    दूसरी ने पलटकर जवाब दिया:
    नहीं, भगवान करे तेरी हो जाए।
    शराबी: मैं रुकूं या जाऊं…??
  • Teri aankhon se yoon to saagar bhi piye hain maine,
    Tujhe kya khabar judaai ke din kaise jiye hain maine…
  • HEADS आया तो WHISKEY,
    Tails आया तो VODKA,
    जमीन पर खड़ा रहा तो RUM,
    और
    हवा में ही रहा तो माँ कि कसम
    31st से दारु बंद!
  • “ताल्लुकात बढ़ाने हैं तो,
    कुछ आदतें बुरी भी सीख ले गालिब,
    ऐब न हों तो लोग महफ़िलों में नहीं बुलाते!!
  • “बर्फ का वो शरीफ टुकड़ा जाम में क्या गिरा तो बदनाम हो गया”
    “देता जब तक अपनी सफाई,
    तब तक वो खुद शराब हो गया।
  • Humne khud apni taqdeer ki bebasi dekhi…
  • दिल पे जब से शराब का पहरा लग गया,
    गम का अंदर आने का रास्ता बंद हो गया
    ज़ुबान ने जब से शराब को छू लिया,
    उसका नाम हमेशा के लिए भूल गया…
  • Khushiyo Se Naraz Hai Meri Zindagi,
    Pyar Ki Mohtaz Hai Meri Zindagi,
    Hans Leta Hoo Logo Ko Dikhane Ke Liye,
    Warna Dard Ki Kitaab Hai Meri Zindagi… via Sharabi Shayari
  • लोगों ने कहा की मैं शराबी हूँ,
    मैने कहा उन्हो ने आँखों से पिलाइ है.
    लोगों ने कहा की मैं आशिक़ हूँ,
    मैने कहा आशिक़ी उन्हो ने सिखाई है.
    लोगों ने कहा राहुल तू शायर दीवाना है,
    मैने कहा उनकी मोहब्बत रंग लाई है.
  • खुशियो से नाराज़ है मेरी ज़िंदगी,
    प्यार की मोहताज़ है मेरी ज़िंदगी,
    हंस लेता हू लोगो को दिखाने के लिए,
    वरना दर्द की किताब है मेरी ज़िंदगी…
  • Ek Jahan Maanga Tha Jisme Bahot Saara Pyar Mile,
    Magar De Diya Mehkhana Jahan Bahot Saari Sharab Thi
    Ek Kandha Maanga Tha Jiska Mujhe Sahara Mile,
    Magar De Di Zindagi Jahan Duniya Bhar Ki Tanhai Thi…
  • Dil Pe Jab Se Sharab Ka Pehra Lag Gaya,
    Gam Ka Andar Aane Ka Raasta Band Ho Gaya
    Zubaan Ne Jab Se Sharab Ko Chhu Liya,
    Uska Naam Hamesha Ke Liye Bhool Gaya…
  • जाम पे जाम पीने से क्या फायदा दोस्तों
    रात को पी हुयी शराब सुबह उतर जाएगी!
    अरे पीना है तो दो बूंद बेवफा के पी के देख
    सारी उमर नशे में गुज़र जाएगी!
  • कभी आँसू कभी खुशी देखी,
    हमने अक्सर मजबूरी ओर बेकसि देखी,
    उनकी नाराज़गी को हम क्या समझे,
    हमने खुद अपनी तक़दीर की बेबसी देखी…
  • Kuch log peete hain gam bhoolane ko……
    kuch log peete hain koi aur gam bhoolaane ko….
    par ai dost ye kya………
    hum to mahoal na milane ke gam mein peete hain…
  • Wo Bhi Din They Jab Hum Bhi Piya Karte They,
    Yun Na Karo Hamse Piney Pilaney Ki Baat,
    Jitni Tumhare Jaam Mein Hai Sharab,
    Utni Hum Paimaney Mein Chod Diya Kartey They…
  • देवदास की तरह जान मत दो यारो
    प्यार को लात मारो
    मेरी बात मानो
    ना चंद्रमुखी ना पारो
    रोज़ रात एक स्ट्रॉंग बियर मारो और
    चैन से ज़िंदगी गुजारो…
  • नशा हम करते हैं ,
    इल्ज़ाम शराब को दिया जाता है,
    मगर इल्ज़ाम शराब का नही उनका है,
    जिनका चेहरा हमे हर जाम में नज़र आता है……
  • Yaaro ki Mehfil Aise Jamai Jati Hai
    Kholane se Pehle Botal Hilaayi Jati Hai
    Fir Awaz Lgayi Jati Hai
    Aa Jao Tute DiL Walo
    Yaha Dard-E-DiL Ki Dawa Pilayi jati hai!
  • Peetay They Sharab Hum,
    Usne Chudadi Apni Kasam Dekar,
    Mehfil Me Gaye The Hum,
    Yaroon Ne Piladi Uski Kasam Dekar…
  • हर रोज़ पीता हूँ तेरे छोड़ जाने के ग़म में,
    वर्ना पीने का मुझे भी कोई शौंक नहीं,
    बहुत याद आते है तेरे साथ बीताये हुये लम्हें,
    वर्ना मर मर के जीने का मुझे भी कोई शौंक नहीं |
  • Hamesha yad ati hai unki..
    Aur mood ho jata hai kharab..
    Tab Hamesha lekar baithe hai hum…..
    ek hath me Kalam aur ek hath me sharab…
  • हम तो जी रहे थे उनका नाम लेकर,
    वो गुज़रते थे हमारा सलाम लेकर,
    कल वो कह गये भुला दो हुमको,
    हमने पुछा कैसे!!!!
    वो चले गये हाथो मे जाम देकर…
  • मेरी कब्र पे मत गुलाब लेके आना
    ना ही हाथों में चिराग लेके आना
    प्यासा हू मैं बरसो से जानम
    बोतल शराब की और एक ग्लास लेके आना..
  • Dard ki mehfil me ek sher hum bhi arz kiya karte hai..
    Na kisi se marham Na duaon ki Ummed kiya karte hai..
    kayi chehre lekar log yaha jiya karte hai…….
    hum in aasunao ko ek chehre ke liye peeya karte hai…
  • शराब चीज़ ही ऐसी हाए ना छोडी जाए
    ये मेरे यार के जैसी हाए ना छोडी जाए
  • हमेशा याद आती है उनकी..
    और मूड हो जाता है खराब..
    तब हमेशा लेकर बैठे है हम…..
    एक हाथ मे कलाम और एक हाथ मे शराब…
  • Peene Pilane Ki Kya Baat Karte Ho,
    Kabhi Hum Bhi Piya Karte The,
    Jitni Tum Jaam Mein Liye Baithe Ho,
    Utni Hum Paimaane Mein Chod Diya Karte The…
  • हो चुकी मुलाकात अभी सलाम बाकी है
    तुम्हारे नाम की दो घूँट शराब बाकी है
    तुमको मुबारक हो खुशियूं का शामियाना
    मेरे नसीब मे अभी दो गज़ ज़मीन बाकी है…
  • Peetay They Sharab Hum,
    Usne Chudadi Apni Kasam Dekar,
    Mehfil Me Gaye The Hum,
    Yaroon Ne Piladi Uski Kasam Dekar…
  • Roshni karta hu andhera mitane ke liye,
    Sharab pita hu main tujko bhulane ke liye,
    Kyo na ban saki tum meri zindagi ki mehbooba,
    Aaj bhi rota hu main gujre zamane ke liye.
  • तेरी आँखों से यून तो सागर भी पिए हैं मैने,
    तुझे क्या खबर जुदाई के दिन कैसे जिए हैं मैने…
  • शराब शरीर को ख़त्म करती है
    शराब समाज को ख़त्म करती है,
    आओ आज इस शराब को ख़त्म करते हैं,
    एक बॉटल तुम ख़त्म करो,
    एक बॉटल हम ख़त्म करते है. ..
  • Log peete hai sharab mehkhane ja-ja kar,
    jo do pal mein utar jayegi,
    humne to pee hai apne mehboob ki aankho se,
    jo umar bhar naa utar payegi.
  • जो आसानी से मिले वो है गम,
    जो मुश्किल से मिले वो है RUM,
    जो किसी किसी से मिले वो है दम,
    जो नसीब वालो को मिले वो है हम!!
  • मे तोड़ लेता अगर तू गुलाब होती
    मे जवाब बनता अगर तू सबाल होती सब जानते है
    मैं नशा नही करता, मगर में भी पी लेता अगर तू शराब होती!
  • रख ले 2-4 बोतल कफ़न में,
    साथ बैठ कर पिया करेंगे,
    जब माँगे गा हिसाब गुनाहों का,
    एक पेग उससे भी दे दिया करेंगे..
  • पी के रात को हम उनको भुलाने लगे !
    शराब मे ग़म को मिलाने लगे !!
    ये शराब भी बेवफा निकली यारो !
    नशे मे तो वो और भी याद आने लगे !
  • Teri aankhon se aisi sharab pee maine,
    Ke phir na kabhi hosh ka dawa kiya kabhi maine,
    Wo aur honge jinhe maut aa gayi hogi,
    Nigah-e-yaar se paayi hai zindagi maine.
  • बोतल छुपा दो कफ़न में मेरे शमशान में पिया करूंगा,
    जब खुदा मांगेगा हिसाब तो पैग बना के दिया करूंगा.
  • Logon Ne Kaha  Ki Main Sharabi Hoon,
    Maine Kaha Unho Ne  Ankhon Se Pilaiee Hai.
    Logon Ne Kaha  Ki Main Ashiq Hoon,
    Maine Kaha Ashiqi Unho Ne Sikhaiee Hai.
    Logon Ne Kaha  ‘Dhanwant’ Tu Shayar Dewana Hai,
    Maine Kaha Unki Mohabbat Rang Laiee Hai.
  • Har Baat ka Koi Jawab Nahi Hota,
    Har Ishq ka Naam Kharab Nahi Hota,
    Yooh to Jhoom Lete Hai Nashe mein Peene Waale,
    Magar Har Nashe ka Naam Sharab Nahi Hota.
  • phir aansoo ke kuch fasane nikle,
    maikhane se sharab ke paimane nikle,
    jo dil ka haal hamara samajh na paaye,
    kyu unko hum apne zakhm dikhane nikle.
  • मुश्किल है बता पाना
    मगर कोशिश मेरा हक़ है
    तूने कल रात फिर से पी है
    मुझे पूरा शक है..
  • Duriyaa Aasani Se Mitati Hai ‘SHARAAB’,
    Majburiyon Ko Nashe Me Nachati Hai ‘SHARAAB’….
  • Aansuwo Ko Mila De Tu Apne Har Ek Jaam ME,
    Fir Dekh Kaise Yaadon Ko Aur Kareeb Lati Hai ‘SHARAAB’…..
  • Thake Chuke Hai Jo Is Duniya Ke Sitamo Se,
    Unhe Do Pal Ki Rahat Dilati Hai ‘SHARAAB’…..
  • Pankh Laga Ke Aasmaan Me Ud Jaate Hai Jo Panchi,
    Do Ghoot Me Unhe Baho Me La Sakti Hai ‘SHARAAB’…..
  • Jiss Ka Hath Sari Duniya Chod Deti Hai,
    Unke Hatho Me Aksar Paayi Jati Hai ‘SHARAAB’….
  • Kabhi Bhi Apne Gumon Ko Bhulna Ho To Keh Dena,
    Kitne Bhi Bade Gum Me Kisiko Bhi Hasati Hai ‘SHARAAB’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *